20 से 81 साल के थे खरीदार, रो-रोकर लाज बचाने की मिन्नतें कर रही थी नीलाम की जा रही बेटी, पुलिस ने ऐसे बचाया

रांची के पंडरा की रहनेवाली एक 16 साल की लड़की को  उत्तरप्रदेश में खुलेआम बेचा जा रहा था. बुलंदशहर जिले में अहमदगढ़ थाना क्षेत्र के नौरंगाबाद गांव में खुलेआम उसकी बोली लग रही थी. 20 से 81 साल के खरीदार 50 से 80 हजार तक की बोली लगा रहे थे.

लड़की रो-रो कर एेसा नहीं करने की मिन्नतें कर रही थी. पर, वहां मौजूद लोगों का दिल नहीं पसीजा. इसी बीच किसी ने इसकी सूचना  स्थानीय पुलिस को दे दी. तत्काल अहमदगढ़ थाने की पुलिस मौके पर पहुंची और इस मामले में दो महिलाओं समेत सात लोगों को गिरफ्तार कर लड़की को सकुशल बरामद कर लिया. घटना रविवार की है.

रांची के पंडरा थाना क्षेत्र की रहनेवाली 16 वर्षीय लड़की की मां नेत्रहीन है. उसके दो भाई भी हैं, जो मां के साथ ही झोपड़ी में रहते हैं. लड़की के पिता ने दूसरी शादी कर ली है और अलग रहता है. लड़की के अनुसार पिस्कानगड़ी में रहनेवाली उसकी कथित मौसी कलावती ने उसकी मां को झांसे में लिया और बहला-फुसला कर उसे अपने साथ ले गयी.

कलावती लड़की को लेकर बुलंदशहर के नौरंगाबाद गांव पहुंची. फिर पूरे गांव में किशोरी को बेचने की खबर फैलायी गयी. भीड़ जमा हुई और लड़की की बोली लगने लगी. एक व्यक्ति ने अधिकतम 80 हजार रुपये की बोली लगायी थी, लेकिन इसी बीच पुलिस मौके पर पहुंच गयी और आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया.

ये हुए गिरफ्तार  : पुलिस ने मौके से रांची के पिस्कानगड़ी निवासी कलावती देवी, खुर्जा निवासी राजेश देवी व धीरेंद्र, औरंगाबाद के गांव गंगाहारी निवासी जितेंद्र व इंद्र सिंह और अहमदगढ़ के नौरंगाबाद निवासी महेंद्र व एक अन्य को गिरफ्तार किया है. सभी से पूछताछ की जा रही है. सौदेबाजी के लिए लगाये गये 12 हजार रुपये भी  पुलिस ने जब्त किये हैं. दारोगा राम गोपाल की शिकायत पर आरोपियों  के खिलाफ अहमदगढ़ थाने में केस दर्ज किया गया है.

पहले भी कई लड़कियों को बेच चुकी है कलावती, 30 से 50 हजार रुपये में खरीदकर एक लाख तक में बेचती थी

पुलिस की पूछताछ में लड़की की कथित मौसी कलावती ने कबूल किया है कि वह पहले भी कई लड़कियों को बेच चुकी है. वह बेबस और मजबूर लड़कियों की तलाश में रहती थी. वह झारखंड के अलग-अलग जिलों से गरीब परिवारों की लड़कियों को 30 से 50 हजार रुपये में खरीदती थी. फिर उन्हें एक लाख रुपये तक में बेचती थी. कलावती ने बागपत, मुजफ्फरनगर, बिजनौर, मेरठ, बुलंदशहर आदि जिलों में लड़कियों को बेचने की बात कबूल की है.

आज लड़की को लेकर आयेगी सीडब्ल्यूसी की टीम

बुलंदशहर की चाइल्ड वेलफेयर कमेटी (सीडब्ल्यूसी) के सदस्य पंडरा की बेटी को लेकर मंगलवार को रांची आयेंगे. फिर उसे रांची पुलिस के सहयोग से पीड़िता के घर ले जाया जायेगा. पुलिस की मौजूदगी में सत्यापन के बाद लड़की को उसके परिजन को सौंपा दिया जायेगा.

Tags

उत्तरप्रदेश रांची बुलंदशहर

Related Articles

36999.jpg

More News