यहाँ के इस शहर में सिर्फ 78 रुपये में खरीद सकते हैं अपना आशियाना

इटली  के टारांटो में 78 रुपये यानी 1 यूरो में एक घर खरीदा जा सकता है. लिटिल इटली के तौर पर चर्चित टारांटो देश का पहला शहर है जहां ऐसी कोई अनोखी शुरुआत की जा रही है. इस योजना का उद्देश्य है कि इलाके की आबादी बढ़ाई जा सके.अधिकारियों का कहना है कि शुरू में लोगों को पांच घर बेचे जाएंगे.

19वीं सदी में इटली का बंदरगाह रहे इस शहर की आबादी 40 हजार थी. हालांकि, अब यह आबादी तीन हजार तक ही रह गई है. इस ऐतिहासिक शहर की आबादी बढ़ाने के लिए अधिकारियों ने यह रास्ता खोज निकाला है. ऐसे करीब 25 हजार घरों की पहचान की गई है, जिन्हें सस्ती दरों पर बेचा जाना है. इनमें से से पांच घरों को तुरंत बेचे जाने का प्रस्ताव है.

इससे पहले साल 2011 में सिसली की राजधानी पलेर्मो स्थित गांगी शहर में 78 रुपये यानी 1 यूरो में घर बेचने की योजना शुरू हुई. इसके बाद करीब 150 घरों को बेचा गया. इन्हें लोगों ने खरीदा जिसके बाद इलाके की आबादी बढ़ी और रौनक फिर से लौट आई.

2024 तक पर्यावरण अनुकूल हो जाएगा प्लांट

साल 2019 में ही सिसली के बीवोना, साम्बुका और मुसोमेली में भी ऐसे ही ऑफर दिये गए. इटली के उत्तर पश्चिम में लोकेना भी उन कस्बों में से एक है जहां लोगों घर लेने की कुल कीमत 7 लाख यानी 9,000 यूरो अदा करनी थी.

एक मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, अधिकारी फांसेस्का विग्गिएनो ने बताया कि 78 रुपये में घर बेचे जाने की खबर पर लोगों ने प्रतिक्रिया दी है. रोम, मिलान, न्यूयॉर्क सरीखें शहरों से लोगों ने जानकारी हासिल करनी चाही. बताया कि एक स्टील प्लांट से होने वाले प्रदूषण के चलते यहां के लोगों का इस जगह से मोह भंग हो गया था. अधिकारियों की योजना है कि साल 2024 तक प्लांट पर्यावरण के अनुकूल हो जाये.

Tags

इटली टारांटो Italy Taranto

Related Articles

36999.jpg

More News